बजट 2022-23 : मुख्य बातें

  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी 2022 को संसद में वित्त वर्ष 2022-23 के लिए अपना चौथा बजट पेश किया।
  • वित्त वर्ष 2012 में भारत की आर्थिक वृद्धि 9.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है।
  • आयकर स्लैब अपरिवर्तित रहेगा ।
  • लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स से होने वाली आय पर 15% टैक्स लगेगा।
  • कॉरपोरेट सरचार्ज 12 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी किया जाएगा।
  • पॉलिश किए गए हीरे, रत्नों पर सीमा शुल्क में 5% की कटौती की गई। सिंपल सावन डायमंड्स को छूट दी जाएगी।
  • किसी भी आभासी डिजिटल संपत्ति के हस्तांतरण से होने वाली आय पर 30 प्रतिशत की दर से कर लगाया जाएगा, साथ ही लेनदेन पर 1% कर।
  • ब्लॉकचेन और अन्य तकनीकों का उपयोग करके जारी किया जाएगा डिजिटल रुपया; 2022-23 से आरबीआई द्वारा जारी किया जाएगा।
  • अगले 3 वर्षों के दौरान 400 नई पीढ़ी की वंदे भारत ट्रेनों को चलाया जाएगा और 100 PM गति शक्ति कार्गो टर्मिनल विकसित किए जाएंगे l
  • वित्त वर्ष 2022-23 में निजी कंपनियों द्वारा 5जी दूरसंचार सेवाओं के रोलआउट के लिए 2022 में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी आयोजित की जाएगी
  • पूंजीगत व्यय परिव्यय 35.4% की तेजी से CY में 5.54 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 2022-23 में 7.50 लाख करोड़ रुपये हो गया। 2022-23 में परिव्यय जीडीपी का 2.9% होगा
  • घाटा/व्यय
    • 2025/26 तक सकल घरेलू उत्पाद के 4.5% के राजकोषीय घाटे का प्रस्ताव
    • 2022/23 में सकल घरेलू उत्पाद का 6.4% राजकोषीय घाटा परियोजना
    • सकल घरेलू उत्पाद के 6.9% पर 2021/22 के लिए संशोधित राजकोषीय घाटा
    • 2022/23 में कुल खर्च 39.45 ट्रिलियन रुपए
आमदनी
खर्च

Leave a Comment

Your email address will not be published.