भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो दर को आधा प्रतिशत बढ़ाकर 5.9 प्रतिशत किया

  • 30 सितंबर 2022 को भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने तत्काल प्रभाव से रेपो दर को आधा प्रतिशत बढ़ाकर 5.9 प्रतिशत करने का निर्णय लिया।
  • आरबीआई ने मई 2022 से रेपो रेट में 1.9 फीसदी की बढ़ोतरी की है।
  • RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, एमपीसी ने पॉलिसी रेपो रेट बढ़ाने का फैसला छह में से पांच सदस्यों के बहुमत से किया।
  • स्थायी जमा सुविधा (एसडीएफ) दर 5.65 प्रतिशत पर समायोजित है;
  • सीमांत स्थायी सुविधा (MSF) दर, और बैंक दर 6.15 प्रतिशत।
  • आरबीआई ने 2022-23 के लिए वास्तविक जीडीपी विकास दर 7.0 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया है। इससे पहले आरबीआई ने 2022-23 के लिए जीडीपी ग्रोथ 7.2 फीसदी रहने का अनुमान लगाया था।