महान स्वतंत्रता सेनानी अल्लूरी सीताराम राजू की 125वीं जयंती मनाई गई

  • प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 4 जुलाई 2022 को आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के भीमावरम में अल्लूरी सीताराम राजू की 30 फीट ऊंची कांस्य प्रतिमा का अनावरण किया।
  • स्वतंत्रता सेनानी की 125वीं जयंती और स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के हिस्से के रूप में मनाई गई।
  • पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत तेलुगु में की, क्रांतिकारी नेता को श्रद्धांजलि दी और उन्हें पूरे देश के लिए एक प्रेरणा के रूप में सम्मानित किया।
  • वह पूरे देश के लिए एक प्रेरणा हैं। अल्लूरी सीताराम राजू की 125वीं जयंती ‘रम्पा क्रांति’ के 100 साल और आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में मनाई गई।
  • कहा जाता है कि 1897 या 1898 में वर्तमान आंध्र प्रदेश में जन्मे, अल्लूरी सीताराम राजू ने बहुत कम उम्र में इस क्षेत्र में अंग्रेजों के खिलाफ गुरिल्ला प्रतिरोध का नेतृत्व किया था।

Qns : अल्लूरी सीताराम राजू कौन थे ?

Ans : अल्लूरी सीताराम राजू का जन्म 4 जुलाई 1857 को आंध्र प्रदेश के पश्चिम गोदावरी जिले के पलाकोडेरु मंडल के मोगल्लु गांव में हुआ था। उन्होंने रम्पा विद्रोह की शुरुआत की और लोकप्रिय रूप से “मन्यम वीरुडु” या जंगल के नायक के रूप में जाने जाते थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.