राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस 2022: 1 जुलाई

भारत 1 जुलाई को एक प्रख्यात चिकित्सक, शिक्षाविद्, स्वतंत्रता सेनानी और राजनीतिज्ञ डॉ. बिधान चंद्र रॉय की जयंती पर राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस मनाता है। दुनिया भर में अलग-अलग तारीखों में डॉक्टर्स डे मनाया जाता है। तारीख अलग-अलग देशों में अलग-अलग होती है। राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस उन डॉक्टरों की भूमिका को चिह्नित करता है जो यह सुनिश्चित करने के लिए अथक परिश्रम करते हैं कि रोगी अच्छे स्वास्थ्य में रहें। यह दिन स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण के लिए किए गए प्रयासों का जश्न मनाता है।

थीम :

2022 में थीम “फ्रंट लाइन पर फैमिली डॉक्टर्स” है।

इतिहास :

इस दिन को पहली बार 1991 में स्थापित किया गया था। डॉ बिधान चंद्र रॉय को इस दिन याद किया जाता है। वह एक प्रसिद्ध चिकित्सक और पश्चिम बंगाल के दूसरे सीएम थे। दिलचस्प बात यह है कि उनका जन्मदिन और पुण्यतिथि एक ही दिन है। यह दिन डॉ. रॉय का सम्मान करता है और रोगियों के लिए हर किसी के प्रयास को भी पहचानता है।

डॉ बिधान चंद्र रॉय:

बिधान चंद्र रॉय MRCP FRCS (1 जुलाई 1882 – 1 जुलाई 1962) एक भारतीय चिकित्सक, शिक्षाविद, परोपकारी, स्वतंत्रता सेनानी और राजनेता थे, जिन्होंने 1948 से 1962 में अपनी मृत्यु तक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य किया।

Qns : राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस कब मनाया जाता है ?

Ans : भारत 1 जुलाई को डॉ. बिधान चंद्र रॉय की जयंती पर राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस मनाता है।

Qns : डॉ बिधान चंद्र रॉय कौन थे?

Ans : बिधान चंद्र रॉय MRCP FRCS एक भारतीय चिकित्सक, शिक्षाविद्, परोपकारी, स्वतंत्रता सेनानी और राजनेता थे, जिन्होंने 1948 से 1962 में अपनी मृत्यु तक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.