सरकार के प्रमुख कार्यक्रम ‘मेक इन इंडिया’ के आठ साल पूरे हो गए हैं।

  • सरकार के प्रमुख कार्यक्रम ‘मेक इन इंडिया’ ने 25 सितंबर को 8 साल पूरे कर लिए हैं।
  • माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी के गतिशील नेतृत्व में 2014 में शुरू किया गया, ‘मेक इन इंडिया’ देश को एक अग्रणी वैश्विक विनिर्माण और निवेश गंतव्य में बदल रहा है।
  • यह पहल दुनिया भर के संभावित निवेशकों और भागीदारों को ‘न्यू इंडिया’ की विकास गाथा में भाग लेने के लिए एक खुला निमंत्रण है। मेक इन इंडिया ने 27 क्षेत्रों में पर्याप्त उपलब्धियां हासिल की हैं, इसमें विनिर्माण और सेवाओं के रणनीतिक क्षेत्र भी शामिल हैं।
  • भारत में एफडीआई अंतर्वाह जो 2014-2015 में 45.15 बिलियन अमेरिकी डॉलर था, और तबसे लगातार आठ वर्षों तक निरंतर वृद्धि हुई है जो रिकॉर्ड एफडीआई आवक तक पहुंच गई है। साल 2021-22 में 83.6 अरब अमेरिकी डॉलर का अब तक का सबसे ज्यादा एफडीआई दर्ज किया गया।