स्वीडिश आनुवंशिकीविद् स्वांते पाबो ने शरीर क्रिया विज्ञान या चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार 2022 जीता है।

  • स्वांते पाबो को फिजियोलॉजी या मेडिसिन (Physiology or Medicine Nobel Prize) में नोबेल पुरस्कार 2022 (Nobel Prizes 2022) से सम्मानित किया गया है.
  • नोबेल पुरस्कार समिति ने 3 अक्टूबर 2022 को, स्वंते पाबो को “विलुप्त होमिनिन और मानव विकास के जीनोम से संबंधित उनकी खोजों के लिए” पुरस्कार से सम्मानित किया।
  • यह वैज्ञानिक दुनिया में सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार माना जाता है, यह स्वीडन के करोलिंस्का संस्थान की नोबेल असेंबली द्वारा प्रदान किया जाता है और इसकी कीमत 10 मिलियन स्वीडिश क्राउन ($ 900,357) है।
  • 67 वर्षीय पाबो ने जर्मनी में म्यूनिख विश्वविद्यालय और लीपज़िग में मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट फॉर इवोल्यूशनरी एंथ्रोपोलॉजी में अपनी पढ़ाई की। स्वांते पाबो सुने बर्गस्ट्रॉम के बेटे हैं, जिन्हें 1982 में चिकित्सा में नोबेल पुरस्कार मिला था।