19 साल की जाह्नवी ने रचा इतिहास, NASA JPL में ट्रेनिंग करने वाली पहली भारतीय महिला बनी

  • आंध्र प्रदेश की रहने वाली जाह्नवी डांगेती ने पश्चिम गोदावरी जिले के पलाकोल्लू की सेकंड ईयर इंजीनियरिंग की छात्रा 19 वर्षीय जाह्नवी डांगेती ने जनवरी 2022, में अलबामा के कैनेडी स्पेस सेंटर में NASA का अंतर्राष्ट्रीय वायु और अंतरिक्ष कार्यक्रम (IASP) पूरा किया। यह लक्ष्य हासिल करने वाली वह पहली भारतीय हैं।
  • आईएएसपी कार्यक्रम के लिए दुनिया के 20 युवाओं का हुआ चयन, जाह्नवी ने यह मुकाम हासिल किया है। वह टीम कैनेडी की मिशन डायरेक्टर बन गई है।
  • वह विभिन्न देशों के 16 लोगों के समूह का नेतृत्व करेंगे। आपको बता दें कि इस टीम ने न सिर्फ एक मिनिएचर रॉकेट लॉन्च किया बल्कि उसे सफलतापूर्वक उतारा भी।
  • यह एक एस्ट्रोनॉट प्रोग्राम था, जिसे केनेडी स्पेस सेंटर में आयोजित किया गया था। इसमें मल्टी एक्सेस ट्रेनिंग (Multi-Access Training), जीरो ग्रैविटी (Zero Gravity) और अंडरवॉटर रॉकेट लॉन्च (Underwater Rocket Launch) शामिल थे। इसी के साथ जाह्नवी को पहली बार एयरक्राफ्ट उड़ाने का मौका भी मिला।
  • वह एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रमाणित ओपन वाटर स्कूबा डाइवर है। जाह्नवी पंजाब, जालंधर शहद के LPU यूनिवर्सिटी से इंजिनियरिंग की पढ़ाई कर रही हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.