24 जनवरी 2022 राष्ट्रीय बालिका दिवस

  • भारत में हर साल 24 जनवरी को इस दिन राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस दिन को मनाने की शुरुआत वर्ष 2009 में पहली बार महिला बाल विकास मंत्रालय ने की थी |
  • इस दिन को बालिका बचाओ अभियान, बाल लिंग अनुपात, लड़कियों के लिए एक स्वस्थ तथा सुरक्षित वातावरण को बढ़ावा देने जैसे संगठित कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं |
  • बालिका दिवस वर्ष 2021 की थीम ‘डिजिटल जनरेशन, अवर जेनरेशन’ थी, वर्ष 2020 में बालिका दिवस की थीम ‘मेरी आवाज, हमारा साझा भविष्य’ थी, बालिका दिवस वर्ष 2022 की थीम अभी तक घोषित नहीं की गई है |
  • हर वर्ष 24 जनवरी को बालिका दिवस के रूप में मनाने का एक खास कारण यह है , इस दिन साल 1966 में इंदिरा गांधी ने देश की पहली महिला प्रधान मंत्री के रूप में शपथ ली थी , जिसके चलते 24 जनवरी भारत के इतिहास में महिला सशक्तिकरण के लिए एक महत्वपूर्ण दिन माना जाने लगा |
  • भारत में राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी और 11 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है |
  • राष्ट्रीय बालिका दिवस का उद्देश्य है कि लड़कियों के अधिकारों के प्रति सबको जागरूक किया जाये और अन्य लोगों की भांति लड़कियों को भी सभी अवसर मिलें। इसके अलावा देश की लड़कियों को समर्थन दिया जाये और लैंगिक पूर्वाग्रहों को मिटाया जाये।
  • गत वर्षों में लड़कियों के हालात सुधारने के लिये भारत सरकार ने अनेक कदम उठाये हैं-
  1. बेटियों को बचाओ
  2. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ
  3. सुकन्या समृद्धि योजना
  4. सीबीएसई उड़ान योजना,
  5. लड़कियों के लिये मुफ्त या राजसहायता प्राप्त शिक्षा

Source: महिला एवं बाल विकास मंत्रालय

Leave a Comment

Your email address will not be published.