करंट अफेयर्स दिसम्बर 2021

भारत की पहली स्वदेशी हाइड्रोजन ईंधन सेल बस

भारत की पहली स्वदेशी रूप से विकसित और निर्मित हाइड्रोजन ईंधन सेल बस को 15 दिसंबर 2021 को पुणे में लॉन्च किया गया था। सीएसआईआर-नेशनल केमिकल लेबोरेटरी (एनसीएल) और सीएसआईआर-सेंट्रल इलेक्ट्रोकेमिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीईसीआरआई) ने केपीआईटी टेक्नोलॉजीज द्वारा इनक्यूबेट की गई एक आर एंड डी इनोवेशन लैब, सेंटिएंट लैब्स के सहयोग से हाइड्रोजन फ्यूल सेल टेक्नोलॉजी विकसित की है।

प्रधानमंत्री ने कानपुर मेट्रो रेल के पहले चरण का उद्घाटन किया

कानपुर मेट्रो रेल के पहले चरण का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 दिसंबर 202 को किया था। इस परियोजना के बारे में विवरण निचे दिया गया है|

कानपुर मेट्रो रेल के बारे में मुख्य जानकारी

  • आईआईटी-कानपुर से कानपुर शहर में मोती झील क्षेत्र तक 9 किमी लंबे खंड ( पहले चरण) का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी ने किया है।
  • उन्होंने कानपुर मेट्रो रेल परियोजना का निरीक्षण किया और आईआईटी मेट्रो स्टेशन से गीता नगर तक मेट्रो की सवारी की।
  • कानपुर में परियोजना की पूरी लंबाई 32 किमी है और इसे 11,000 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाया जा रहा है।
  • कानपुर मेट्रो का काम 15 नवंबर 2019 को शुरू हुआ था।
  • दैनिक वाणिज्यिक परिचालन 31 दिसंबर, 2021 से शुरू होगा।
  • यूरोपीय निवेश बैंक (ईआईबी) ने कानपुर मेट्रो में 650 मिलियन यूरो का निवेश करने का प्रस्ताव दिया है, जो यूरोपीय संघ के बाहर अब तक का दूसरा सबसे बड़ा संचालन है। ईआईबी यूरोपीय संघ का आधिकारिक बैंक है और दुनिया का सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय सार्वजनिक बैंक है। ईआईबी ने पहले लखनऊ मेट्रो के विकास के लिए 45 करोड़ यूरो का कर्ज मंजूर किया था।

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश के 9 जिलों से गुजरता है

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की लम्बाई 340.8 किमी है| यह 6-लेन चौड़ा (8 तक विस्तार योग्य) एक्सप्रेसवे है।
यह एक्सप्रेसवे भारत का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे है।
सुल्तानपुर जिले में एक्सप्रेस-वे पर 3.2 किमी लंबी हवाई पट्टी का निर्माण किया गया है ।
प्रधानमंत्री ने 16 नवंबर 2021 को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया।
यह एक्सप्रेसवे लखनऊ जिले के चांद सराय को गाजीपुर जिले के NH-31 पर स्थित हैदरिया गांव से जोड़ता है।
यह उत्तर प्रदेश के 9 जिलों यानी (पश्चिम से पूर्व की ओर) लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, अम्बेडकर नगर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर से होकर गुजरता है।

बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप: श्रीकांत किदांबी और लक्ष्य सेन ने जीता पदक

बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (बीडब्ल्यूएफ) बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप 2021, 12 दिसंबर 2021 और 19 दिसंबर 2021 के बीच ह्यूएलवा, स्पेन में आयोजित की गई थी। भारत के श्रीकांत किदांबी और लक्ष्य सेन ने क्रमशः पुरुष एकल रजत और कांस्य पदक जीता।

BWF विश्व चैम्पियनशिप 2021 के विजेता:

Winners of BWF World Championship 2021:

वर्गविजेता (स्वर्ण)उपविजेता (रजत)कांस्य पदक
पुरुष एकललोह कीन यू (सिंगापुर)श्रीकांत किदांबी (भारत)लक्ष्य सेन (भारत)
महिला एकलअकाना यामागुची (जापान) तै तजु यिंग (चाइना ताइपे) हे बिन्ह्जिओं (चीन)

मुख्य बातें

  • श्रीकांत किदांबी पुरुष एकल में विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले और रजत पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने।
  • लक्ष्य सेन, (उम्र 20 वर्ष) ने टूर्नामेंट में बोन्ज मेडल जीता।
  • पीवी सिंधु महिला एकल विश्व चैम्पियनशिप खिताब की रक्षा करने में विफल रही और वह क्वार्टर फाइनल में ताई त्ज़ु से हार गईं

सबसे बड़ा अंतरिक्ष टेलीस्कोप जेम्स वेब

25 दिसंबर 2021 को फ्रेंच गुयाना से जेम्स वेब नाम का सबसे बड़ा और सबसे शक्तिशाली अंतरिक्ष (स्पेस) टेलीस्कोप लॉन्च किया गया है।

मुख्य बातें

  • जेम्स वेब दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे शक्तिशाली अंतरिक्ष दूरबीन है।
  • नासा, यूरोपीय और कनाडाई अंतरिक्ष एजेंसियों ने संयुक्त रूप से इस अंतरिक्ष दूरबीन का निर्माण और प्रक्षेपण किया।
  • इसे 25 दिसंबर (क्रिसमस दिवस) 2021 को फ्रेंच गयाना स्पेस सेंटर से लॉन्च किया गया है।
  • गुयाना स्पेस सेंटर जिसे यूरोप का स्पेसपोर्ट भी कहा जाता है, फ्रेंच गुयाना में एक फ्रांसीसी और यूरोपीय स्पेसपोर्ट है, जो दक्षिण अमेरिका में फ्रांस का एक क्षेत्र है। 1968 के बाद से परिचालन, यह विशेष रूप से एक स्पेसपोर्ट के लिए एक स्थान के रूप में उपयुक्त है।
  • लॉन्च करने के लिए यूरोपीय एरियन रॉकेट का इस्तेमाल किया गया था।
  • अंतरिक्ष दूरबीन पृथ्वी से 16 लाख किलोमीटर दूर स्थित होगी।
  • जेम्स वेब टेलीस्कोप वस्तुओं को स्कैन करने के लिए इन्फ्रारेड इमेजिंग का उपयोग करता है।